श्रावण में यह उपाय लाएगा धन, चमक, आजमाएं किस्मत

श्रावण का महीना हिंदुओं के लिए सबसे पवित्र महीना माना जाता है। वेदों और पुराणों में श्रावण मास को विशेष महत्व दिया गया है। सच्चे मन से भगवान शिव की आराधना करने वाले भक्तों को इस माह में अवश्य ही शुभ फल की प्राप्ति होती है।

धार्मिक ग्रंथों में स्पष्ट लिखा है कि इस माह में सच्चे मन से की गई भगवान शिव की पूजा व्यर्थ नहीं जाती है। इतना ही नहीं, भगवान शिव भक्तों पर प्रसन्न होते हैं और उनकी हर मनोकामना पूरी करते हैं। इस पवित्र माह के लिए कुछ विशेष उपायों का भी उल्लेख किया गया है। इसे अपनाने से बहुत जल्दी फल मिलता है।

आमदनी बढ़ाने के उपाय

श्रावण मास में पारद शिवलिंग की स्थापना का विशेष महत्व है। आप किसी भी दिन अपने पूजा स्थल या मंदिर में पारद शिवलिंग स्थापित कर सकते हैं। सोमवार के दिन ऐसा करना अधिक शुभ सिद्ध हो सकता है। इसके बाद 108 बार जप करें: श्री श्री नमः: श्री हरित मंत्र का 108 बार जाप करें। प्रत्येक मंत्र का जाप करने के बाद पारद शिवलिंग पर बिल्वपत्र चढ़ाएं। बिल्वपत्र के तीन पत्तों पर लाल चंदन से क्रमश: , ह्री, श्री लिखें।

रोग दूर करने के लिए करें यह उपाय

श्रावण मास में भक्त भगवान शिव का अभिषेक करते हैं। अगर अभिषेक की विधि में थोड़ा सा बदलाव किया जाए तो यह ज्यादा फायदेमंद हो सकता है। श्रावण के किसी भी दिन शिवलिंग का दूध और काले तिल से अभिषेक करने से विशेष लाभ मिलता है।

नकारात्मकता दूर होगी, सुख-समृद्धि बढ़ेगी

अपने चारों ओर सकारात्मक ऊर्जा का संचार करने और नकारात्मकता को दूर करने के लिए श्रावण के महीने में भगवान शिव का सुगंधित तेल से अभिषेक करना चाहिए। यह उपाय आपके घर में सुख-समृद्धि लाएगा। साथ ही शिवलिंग पर दूध में चीनी मिलाकर अभिषेक करने से नकारात्मकता दूर होती है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.