जीवन की कई समस्याओं को दूर करता है सफेद रत्न, जानिए इसे पहनने का सही तरीका…

रत्न लाभ : जीवन में परेशानियों से छुटकारा पाने और कुंडली में पाप ग्रहों के प्रभाव को कम करने के लिए रत्न धारण करने की सलाह दी जाती है।

रत्न शास्त्र में ऐसे कई रत्नों का विस्तार से वर्णन किया गया है, जिन्हें धारण करने से न केवल परेशानी कम होती है बल्कि भाग्य भी साथ मिलता है।

इन्हीं में से एक रत्न है सफेद मूंगा। सफेद मूंगा को ज्योतिष में भी एक महत्वपूर्ण रत्न माना गया है। कहा जाता है कि सफेद मूंगा न केवल ग्रहों के अशुभ प्रभाव को कम करता है।

बल्कि इसे धारण करने से कई तरह के रोग और पुराने रोग भी दूर हो जाते हैं। सफेद मूंगा पहनने के क्या फायदे हैं, इसे किसे पहनना चाहिए और इसे पहनने का तरीका क्या है?

  • सफेद मूंगा धारण करने के फायदे :

पति-पत्नी के रिश्ते में कड़वाहट हो या हमेशा कलह की स्थिति बनी रहे तो सफेद मूंगा धारण करना चाहिए। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इससे उनके रिश्ते में प्यार बढ़ेगा और आपसी संबंध भी मजबूत होंगे।

सफेद मूंगा मानसिक स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। ऐसे में जो लोग मानसिक अशांति से गुजर रहे हैं उन्हें सफेद मूंगा यानी सफेद मूंगा रत्न धारण करना चाहिए।  

सफेद मूंगा व्यक्ति के मानसिक विकास को बेहतर बनाने और सिरदर्द, ब्रेन ट्यूमर और साइनस जैसी बीमारियों से निजात दिलाने में मददगार होता है। ज्योतिष के अनुसार सफेद मूंगा एलर्जी, खांसी, सूजन और चेचक के इलाज के लिए भी पहना जाता है।

  • सफेद मूंगा किसे पहनना चाहिए?

मूंगा रत्न मंगल ग्रह से जुड़ा हुआ है। ऐसे में जिस व्यक्ति की कुंडली में मंगल कमजोर स्थिति में हो या अच्छे परिणाम नहीं दे पाता हो उसे सफेद रंग का मूक रत्न धारण करना चाहिए।

मेष और वृश्चिक राशि के लोगों को ज्योतिष में सफेद मूंगा पहनने की सलाह दी जाती है।

  • सफेद मूंगा कैसे पहनें :

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार मंगलवार की सुबह उठकर स्नान करके गंगाजल के बर्तन में मुंगा रत्न विसर्जित कर दें।

इसके बाद ‘O अंगरकाय नमः’ मंत्र का 108 बार जाप करते हुए इसे धारण करें।

  • सफेद मूंगा किस धातु में धारण करना चाहिए?

सफेद मूंगा चांदी की धातु में सबसे अच्छा पहना जाता है, लेकिन आप इसे सोने और पंचधातु में भी पहन सकते हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.