योग के साथ शुरुआत करने वाले लोगों के लिए परफेक्ट है यह व्यायाम, थोड़े में मिलेंगे जबरदस्त फायदे

योग फिट रहने का एक शानदार तरीका है। इसलिए, यदि आप योग शुरू करने की योजना बना रहे हैं, तो बिना देर किए इसे करें। लेकिन अगर आप इसे पहली बार कर रहे है तो आपको काफी तकलीफदेह लग सकता है पर ऐसे में चिंता न करें, कुछ बहुत ही सरल आसन हैं जिन्हें आप बिना किसी परेशानी के घर पर ही शुरू कर सकते हैं।

आइए पहली बार करने के लिए सर्वश्रेष्ठ योग आसनों पर एक नज़र डालें। यदि आप स्वस्थ जीवन के लिए योग का अभ्यास करना चाहते हैं, तो इन आसनों से शुरू करें:

1. ताड़ासन:

ताड़ासन सबसे शुरुआती योग मुद्राओं में से एक है। यह करने में काफी सरल है । योग प्रकृति से गहराई से जुड़ा हुआ है और इसलिए हर आसन का प्रकृति से गहरा संबंध है। इस आसन को करने के लिए आपको सीधे खड़े होने की जरूरत है।

एड़ियों के बीच एक छोटा सा गैप छोड़ दें। आपके हाथ सीधे, आपकी कमर के बगल में रखे जाने चाहिए। फिर धीरे-धीरे अपने पैर की उंगलियों को ऊपर उठाएं और अपने टखने को भी फैलाएं। अपने शरीर को मुद्रा में संतुलित करें।

अपने धड़ को खींचते हुए धीरे-धीरे सांस लें। जैसे ही आप सांस छोड़ते हैं, अपने कंधे के ब्लेड को गर्दन से दूर ले जाएं। आपको बिल्कुल सीधे खड़े होने की जरूरत है और आपके कंधे और आपके टखने एक सीधी रेखा में होने चाहिए। फिर धीरे से अपने हाथों को अपने सिर के ऊपर उठाएं और उन्हें एक साथ फैलाएं।

2. वृक्षासन:

वृक्ष का अर्थ है पेड़ और यह मुद्रा आपको एक पेड़ की तरह खड़ा करती है और ग्राउंडिंग की भावना प्रदान करती है। यह आपके शरीर में संतुलन बनाने और मांसपेशियों को मजबूत करने के लिए एक उत्कृष्ट मुद्रा है। अगर आपकी पीठ में दर्द या पैरों में दर्द है तो इस आसन को करें।

इसे करने के लिए एक सीधी स्थिति में खड़े हो जाएं। फिर धीरे-धीरे अपने बाएं पैर को ऊपर उठाएं और बाएं पैर को अपनी दाहिनी जांघ पर रखें। अपने दाहिने पैर को जमीन पर मजबूती से टिकाएं और अपना संतुलन बनाए रखें।

धीरे-धीरे सांस लें और अपनी बाहों को अपने सिर के ऊपर उठाएं और अपनी हथेलियों को आपस में छुएं। यह आपके शरीर में मांसपेशियों को फैलाएगा, आपको संतुलन में मदद करेगा और आसन को पूरा करने के तुरंत बाद आपको एक बहुत ही फिट महसूस कराएगा।

3. उत्कटासन:

यदि आप स्वस्थ जीवन के लिए योग की ओर देख रहे हैं, तो आपको सही आसन करने की आवश्यकता है। शुरुआत के लिए उत्कटासन एक बहुत अच्छा विकल्प है। कुर्सी मुद्रा के रूप में भी जाना जाता है, उत्कटासन आपकी इच्छाशक्ति को बढ़ाने और मांसपेशियों को मजबूत करने के लिए जाना जाता है।

यह आपके हाथों और पैरों की मांसपेशियों के लिए विशेष रूप से सहायक है। इसके लिए आपको कोहनियों को झुकाए बिना सीधे खड़े होकर अपनी बाहों को फैलाना है। फिर धीरे-धीरे अपने घुटनों को मोड़ें और कुर्सी पर बैठने की मुद्रा का अनुकरण करते हुए अपनी कमर को नीचे की ओर झुकाएं।

4. भुजंगासन:

भुजंगासन कोबरा मुद्रा के रूप में भी जाना जाता है, भुजंगासन एक बहुत ही प्रभावी योग मुद्रा है। भुजंगासन को करने के लिए आपको फर्श पर, पेट के बल लेटना होता है। अपने हाथों पर दबाव के साथ, अपने धड़ को ऊपर उठाएं और अपने सिर को पीछे धकेलें। कंधों को कानों से दूर खींचो। सांस अंदर लेते समय ऐसा करें। फिर सांस छोड़ते हुए धीरे-धीरे जमीन पर वापस आ जाएं और पेट के बल लेट जाएं।

5. सुखासन:

यह आराम की मुद्रा है और ध्यान के लिए परफेक्ट है। चूंकि योग मन को ठीक करने और चिंता को कम करने पर बहुत ध्यान केंद्रित करता है, सुखासन एक महत्वपूर्ण मुद्रा है जिसका अभ्यास सभी को करना चाहिए। ऐसा करने के लिए, आपको फर्श पर बैठना होगा और अपने पैरों को पार करना होगा।

एक सीधी स्थिति में बैठें और अपनी रीढ़ की हड्डी को सीधा रखें। अपने हाथों को अपने घुटनों पर रखें और शांति से सांस लें। यह आपके दिमाग को ठीक करेगा और आपके शरीर में परिसंचरण में भी सुधार करेगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.