पति-पत्नी खुलवाएं ये अकाउंट, हर महीने होगी पैसों की बारिश, दिल खोल के के खर्च

यदि आप भी निवेश के लिए कोई सुरक्षित विकल्प तलाश रहे हैं तो ये खबर आपके काम की है। अगर आप अपने खून-पसीने की मेहनत को सही जगह निवेश नहीं करते हैं, तो ये रातों-रात शून्य हो सकती है। ऐसे में यह जरूरी है कि आप जब भी किसी स्कीम या योजना में निवेश करें तो उससे पहले उसके रिटर्न और इसके बारे में सभी जानकारी प्राप्त कर ले।

आज इस लेख में हम आपको निवेश का एक ऐसा विकल्प बताने वाले हैं, जहां आपका पैसा तो सुरक्षित रहेगा ही साथ ही अच्छा रिटर्न भी मिलेगा। हम बात कर रहे हैं पोस्ट ऑफिस के मंथली सेविंग स्कीम की।

जॉइंट खाते में मैक्सिमम 9 लाख तक कर सकते हैं निवेश

पोस्ट ऑफिस की MIS में सिंगल और ज्वाइंट दोनों तरह से अकाउंट खुलवाया जा सकता है। आप न्यूनतम 1000 रूपये निवेश करके ये अकाउंट खोल सकते हैं। सिंगल मोड में आप मैक्सिमम इस अकाउंट में 4.5 लाख तक निवेश कर सकते हैं. वही जॉइंट खाते में निवेश के लिए मैक्सिमम लिमिट 9 लाख रुपए है।

स्कीम के हैं कई फायदे

-पोस्ट ऑफिस एमआईएस स्कीम में दो या तीन लोग मिलकर भी जॉइंट अकाउंट खुलवा सकते हैं।
-इस अकाउंट के तहत होने वाली आय को हर मेंबर को बराबर दिया जाता है।
-ज्वाइंट अकाउंट को कभी भी सिंगल अकाउंट में ट्रांसफर किया जा सकता है। वही सिंगल अकाउंट को भी जॉइंट में कन्वर्ट किया जा सकता है।
-यदि आपका ज्वाइंट अकाउंट है और आप खाते में कुछ बदलाव कराना चाहते हैं तो इसके लिए सभी मेंबर्स की ज्वाइंट एप्लीकेशन देनी होती है।
-मैच्योरिटी पूरी होने पर आप इसे 5-5 साल के लिए बढ़ा सकते हैं।

इतना है ब्याज दर

पोस्ट ऑफिस की MIS पर सालाना 6.6 फीसदी ब्याज मिलता है। ब्याज का भुगतान हर महीने किया जाता है। पोस्ट ऑफिस की एमआईएस स्कीम में भारत का कोई भी नागरिक खाता खुलवा सकता है।

ध्यान दें ये बात

पोस्ट ऑफिस की मंथली सेविंग स्कीम की मैच्योरिटी 5 साल है लेकिन इसे आप प्रीमैच्‍योर क्‍लोज भी कर सकते हैं। हालांकि इसमें डिपाजिट की तारीख से 1 साल पूरे होने के बाद ही आप पैसा निकाल सकते हैं। नियम के अनुसार अगर 1 साल से 3 साल के बीच पैसा निकालते हैं तो डिपॉजिट अमाउंट का 2% काटकर पैसा वापस दिया जाएगा।

अगर आप अकाउंट खुलवाने के 3 साल बाद मैच्योरिटी के पहले ही कभी भी पैसा निकालते हैं तो आप की जमा राशि पर 1% पैसा काट कर आपको वापस दिया जाएगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.